हेमंत मंत्रिमंडल के मंत्रियों को विभाग मिले

0

Bharat varta desk:

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने सोमवार को कैबिनेट विस्तार के साथ ही मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा कर दिया। मुख्यमंत्री ने खुद के पास कार्मिक, प्रशासनिक सुधार एवं राजभाषा, गृह, पथ निर्माण, भवन निर्माण, मंत्रिमंडल सचिवालय एवं निगरानी विभाग रखे हैं।

चंपई सोरेन को जल संसाधन और उच्च-तकनीकी शिक्षा विभाग दिए गए हैं।

रामेश्वर उरांव को तीसरी बार वित्त मंत्री बनाया गया है। उन्हें योजना एवं विकास, वाणिज्य कर और संसदीय कार्य विभाग दिए गए हैं।

सत्यानंद भोक्ता को पूर्व की तरह श्रम, नियोजन, प्रशिक्षण एवं कौशल और उद्योग विभाग आवंटित किया गया है।

बैद्यनाथ राम को स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता के साथ उत्पाद एवं मद्य निषेध विभाग सौंपा गया है।

दीपक बिरुआ को अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण के साथ-साथ परिवहन विभाग का प्रभार सौंपा गया है।

बन्ना गुप्ता के पास स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण तीसरी बार बरकरार रखा गया है। इसके अलावा उन्हें खाद्य, सार्वजनिक वितरण एवं उपभोक्ता मामलों का विभाग सौंपा गया है। पहली बार मंत्री बने इरफान अंसारी को ग्रामीण विकास, ग्रामीण कार्य एवं पंचायती राज विभाग आवंटित किए गए हैं।

मिथिलेश ठाकुर को लगातार तीसरी बार पेयजल एवं स्वच्छता विभाग दिया गया है।

हफीजुल हसन को पहले की तरह अल्पसंख्यक कल्याण, निबंधन, पर्यटन, कला-संस्कृति एवं युवा कार्य विभाग सौंपे गए हैं। इस बार उन्हें नगर विकास एवं आवास विभाग भी सौंपा गया है।

बेबी देवी को महिला, बाल विकास एवं सामुदायिक सुरक्षा विभाग और दीपिका पांडेय सिंह को कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता और आपदा प्रबंधन विभाग आवंटित किया गया है।

जिन विभागों का आवंटन किसी भी मंत्री को नहीं किया गया है, वे सीएम के अधीन होंगे। विभागों के बंटवारे की अधिसूचना सरकार के प्रधान सचिव वंदना डाडेल के हस्ताक्षर से जारी की गई है।

About Post Author

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x